रहनुमाई

palak-khwahish

कसम हैं जो..उस ने कसम निभाई हो
चोट फूलो से कभी .. पथ्हरों ने खाई है
मत पूछिए..अंजामे रहगुजर ..
जब की दुश्मनो की रहनुमाई हो..!!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *