Waiting For U ….!!!!

यह पत्तों की है सरसराहट
या तेरे आने का हैं यह पैगाम
दिल तो मेरा एक अरसे से चुरा ले गए तुम
अब तो मेहर कर दे मुज पर
की हर आहट पर तेरी
इंनायत किए फिरते है
आज हम पर
इतनी इबादत कर दे
चली जाए जान भी
आपके प्यार में तो गम ना होगा हमें
बस एक झलक से आज
किस्मत हमारी रंग दे …

अब तो ये इंतज़ार ख्वतम कर दे…

palak


यह पत्तों की है सरसराहट
या तेरे आने का हैं यह पैगाम
दिल तो मेरा एक अरसे से चुरा ले गए तुम
अब तो मेहर कर दे मुज पर
की हर आहट पर तेरी
इंनायत किए फिरते है
आज हम पर
इतनी इबादत कर दे
चली जाए जान भी
आपके प्यार में तो गम ना होगा हमें
बस एक झलक से आज
किस्मत हमारी रंग दे …

अब तो ये इंतज़ार ख्वतम कर दे…

palak


टकटकी सी एक आंखों में रहती हैं
दिल में बस आपका ही ख्याल रहता हैं
यूँ इंनायत से नज़ारे ना मिलाया कीजिये
दिल मेरा बड़ा बेकरार रहता हैं
की एक अनकही सी बात कह जाती हैं नज़र आपकी
अरे आपके एक उफ़ का भी बड़ी बेसब्री से हमें इंतज़ार रहता हैं…
टकटकी सी एक आंखों में रहती हैं
दिल में बस आपका ही ख्याल रहता हैं
यूँ इंनायत से नज़ारे ना मिलाया कीजिये
दिल मेरा बड़ा बेकरार रहता हैं
की एक अनकही सी बात कह जाती हैं नज़र आपकी
अरे आपके एक उफ़ का भी बड़ी बेसब्री से हमें इंतज़ार रहता हैं…

To A Lost Friend…

Sometimes, when people talk about friends, you always come to my mind and you always come to my heartfelt thoughts…

Sometimes when I hear some of your favorite songs, my eyes wet with
tears, and I look back thru the years…

Sometimes I cherish the times we spent together, and sometimes
I repent the mistakes we made…

Sometimes I think it was hard to find you, and then I realize it was the
hardest to let you go…

Do you never ever think of me?
Do you never cry like I do?
I know its been years, and people get over stuff,
But I cant, may be cuz you were an inseparable part of me…
Whether you believe it or not, I cant do anything to make you see,
How much and how much I do miss you!!

Sometimes, when people talk about friends, you always come to my mind and you always come to my heartfelt thoughts…

Sometimes when I hear some of your favorite songs, my eyes wet with
tears, and I look back thru the years…

Sometimes I cherish the times we spent together, and sometimes
I repent the mistakes we made…

Sometimes I think it was hard to find you, and then I realize it was the
hardest to let you go…

Do you never ever think of me?
Do you never cry like I do?
I know its been years, and people get over stuff,
But I cant, may be cuz you were an inseparable part of me…
Whether you believe it or not, I cant do anything to make you see,
How much and how much I do miss you!!

Life

Zindagi kya hai kaisi hai kyun aisi hai
Kuch samajh mein nahi aata
Chhaayi jaise gehri udaasi hai,
Par udaasi ka kaaran nazar mein nahi aata

Ek ghadi hoti hai khushiyo se bhari,
Toh dusra pal bohot hi ghumgheen
Aisa lagta hai jaise zurm kiya ho maine
Koi bohot hi sangheen

Pataa nahi
Kisne meri hasi chura li hai
Unn maasoom baato par
Jaane kisne nazar laga di hai

Baat baat par bina vajah
Mein ro baith ti hoon
Jaane kyu aatma vishwaas
Mein kho baith ti hoon

Hasne wali mein har ghadi
Ab muskurana bhi bhool chuki hoon
Aisa lagta hai pal bhar kay sukoon ko
Jaane kabse bhukhi hoon

Do ghadi hasne ko mile
Toh jaise raahat si hoti hai
Lekin turant hi fir
Bechaini ki aahat si hoti hai

Khair, aakhir ye sab sochne wala
Mera hi toh mann hai
Inhi silwato ka naam hi
Shayad jivan hai!

Zindagi kya hai kaisi hai kyun aisi hai
Kuch samajh mein nahi aata
Chhaayi jaise gehri udaasi hai,
Par udaasi ka kaaran nazar mein nahi aata

Ek ghadi hoti hai khushiyo se bhari,
Toh dusra pal bohot hi ghumgheen
Aisa lagta hai jaise zurm kiya ho maine
Koi bohot hi sangheen

Pataa nahi
Kisne meri hasi chura li hai
Unn maasoom baato par
Jaane kisne nazar laga di hai

Baat baat par bina vajah
Mein ro baith ti hoon
Jaane kyu aatma vishwaas
Mein kho baith ti hoon

Hasne wali mein har ghadi
Ab muskurana bhi bhool chuki hoon
Aisa lagta hai pal bhar kay sukoon ko
Jaane kabse bhukhi hoon

Do ghadi hasne ko mile
Toh jaise raahat si hoti hai
Lekin turant hi fir
Bechaini ki aahat si hoti hai

Khair, aakhir ye sab sochne wala
Mera hi toh mann hai
Inhi silwato ka naam hi
Shayad jivan hai!

खामोश नगमे ….!!!!!!

कभी गुल ने बुलबुल ने कहा …..
मेरी खामोशी तेरे हज़ार गीतों का जवाब है …
बुलबुल ने कहा ….
मैने तेरे ही एहसासों को आवाज़ दी ….
तुने कभी सोचा, मेरे उन नगमो का क्या हुआ …
जो कहे .. न कहे .. कभी लबो तलक आके रह गए …

पलक ……

कभी गुल ने बुलबुल ने कहा …..
मेरी खामोशी तेरे हज़ार गीतों का जवाब है …
बुलबुल ने कहा ….
मैने तेरे ही एहसासों को आवाज़ दी ….
तुने कभी सोचा, मेरे उन नगमो का क्या हुआ …
जो कहे .. न कहे .. कभी लबो तलक आके रह गए …

पलक ……

आप कहे तो हसरते बयां कर दू
आप बैठे रहे और मै ग़ज़ल पुरी कर लू
आप का साथ मिले तो ख़ुद पर एतबार कर लू
खामोशियाँ आबाद रहे , नजरों को जुबान दे दू ,
जींदगी लम्हा लम्हा दर्द सही
अब यादों के सहारे सफर खुसनुवार कर दू
चाँद तारों तो क्या दमन मैं कायनात भर लू
आप के वादे पर ये उमर तमाम कर लू
गुल खिले अ खिले अब ख्वाबों से निकाह कर लू
आप का साथ हो तो ये मंजिले रेहुजर कर लू…..


पलक

आप कहे तो हसरते बयां कर दू
आप बैठे रहे और मै ग़ज़ल पुरी कर लू
आप का साथ मिले तो ख़ुद पर एतबार कर लू
खामोशियाँ आबाद रहे , नजरों को जुबान दे दू ,
जींदगी लम्हा लम्हा दर्द सही
अब यादों के सहारे सफर खुसनुवार कर दू
चाँद तारों तो क्या दमन मैं कायनात भर लू
आप के वादे पर ये उमर तमाम कर लू
गुल खिले अ खिले अब ख्वाबों से निकाह कर लू
आप का साथ हो तो ये मंजिले रेहुजर कर लू…..


पलक

Pondering ……!!!!

My life…
I am WONDERING…………..
Things are getting more and more complicated…. every little things had become so demanding….. sometimes i ask myself … why i am working so hard for….
in the end what am i trying to achieve in my life?a husband?
then a house…..
then a loan…..then a car…. then a family….then…kids…then education…and the list just goes on and on and on……….
in the end, what do i leave for myself???
what happen to the money i earn?
where is my time to do something that i really enjoyed?
but…
if i meet someone…. that very special someone….. won’t i wanna be with him together forever? and have a house so that the two of us can have the cosy little space to spend time together…… don’t u wanna bring him out in a cofortable car so as to avoid the public transport or to wait for taxi under the rain…… the list goes……………on on on on on ……………..and on on on on……so life is so sweet isn’t? just look at it from another angle or perspective, u will find….. at the other side of each story…..
there is always some other thing to ponder about…..

My life…
I am WONDERING…………..
Things are getting more and more complicated…. every little things had become so demanding….. sometimes i ask myself … why i am working so hard for….
in the end what am i trying to achieve in my life?a husband?
then a house…..
then a loan…..then a car…. then a family….then…kids…then education…and the list just goes on and on and on……….
in the end, what do i leave for myself???
what happen to the money i earn?
where is my time to do something that i really enjoyed?
but…
if i meet someone…. that very special someone….. won’t i wanna be with him together forever? and have a house so that the two of us can have the cosy little space to spend time together…… don’t u wanna bring him out in a cofortable car so as to avoid the public transport or to wait for taxi under the rain…… the list goes……………on on on on on ……………..and on on on on……so life is so sweet isn’t? just look at it from another angle or perspective, u will find….. at the other side of each story…..
there is always some other thing to ponder about…..

अजमाइश

तुम को पाने की ख्वाहिश मैं,
उम्र उजर दी अजमाइश मैं ,
ना तुम मिले , ना करार आया ,
हां, ख़ुद को पा लिया ,
तुम्हारी पैमाइश मैं …..
तुम को पाने की ख्वाहिश मैं,
उम्र उजर दी अजमाइश मैं ,
ना तुम मिले , ना करार आया ,
हां, ख़ुद को पा लिया ,
तुम्हारी पैमाइश मैं …..

यादो के बहाव में बह जाना याद है

छोटी छोटी बातों पे मुस्कुराना याद है
पतझड़ मैं भी लगता था मौसम बहारों का
तुम्हारे इंतज़ार मैं वक्त बिताना याद है
कभी साथ बैठे बैठे युही वक्त बिता देना
कभी मेरी हर बात पर तुम्हारा मुस्कुराना याद है
कभी बिन बताये तुम्हारा सब कुछ कह देना
कभी कह के भी बात छुपाना याद है
कुछ सुन ना चाहते थे हम तुमसे
पर तुम्हारा न कह पाना याद है
अभी तो मिले भी नही थे रास्ते हमारे
यूँ एक मोड़ पर राहों का मुड़ जाना याद है
चाहा था एक कहानी बने हमारी
मगर पन्नो का अचानक बिखर जाना याद है
कहाँनी न सही अफसाना तो बन गया
इस अफ़साने का हर फ़साना मुझे याद है

from :- khwabon ki nagariya

यादो के बहाव में बह जाना याद है

छोटी छोटी बातों पे मुस्कुराना याद है
पतझड़ मैं भी लगता था मौसम बहारों का
तुम्हारे इंतज़ार मैं वक्त बिताना याद है
कभी साथ बैठे बैठे युही वक्त बिता देना
कभी मेरी हर बात पर तुम्हारा मुस्कुराना याद है
कभी बिन बताये तुम्हारा सब कुछ कह देना
कभी कह के भी बात छुपाना याद है
कुछ सुन ना चाहते थे हम तुमसे
पर तुम्हारा न कह पाना याद है
अभी तो मिले भी नही थे रास्ते हमारे
यूँ एक मोड़ पर राहों का मुड़ जाना याद है
चाहा था एक कहानी बने हमारी
मगर पन्नो का अचानक बिखर जाना याद है
कहाँनी न सही अफसाना तो बन गया
इस अफ़साने का हर फ़साना मुझे याद है

from :- khwabon ki nagariya

I Love U…!!!!

Will you ever come back,
To hold my hand
To rekindle my life,
To stand beside me,
And grow with my life.

I want you more than ever,
I want to love you forever.

You touched my heart,
You felt my soul,
I was sort of incomplete,
You made me whole…

Theres no life without you,
Its only you and you
I Love You YES I Love You!!!!…….

Will you ever come back,
To hold my hand
To rekindle my life,
To stand beside me,
And grow with my life.

I want you more than ever,
I want to love you forever.

You touched my heart,
You felt my soul,
I was sort of incomplete,
You made me whole…

Theres no life without you,
Its only you and you
I Love You YES I Love You!!!!…….