एक रात….!!!!

Hindi Poems

वो केह कर चले इतनी मुलाकात बहुत है मैंने कहा रुक जाओ अभी रात बहुत है  

आसु मेरे थम जाए तो फ़िर शोख से जाना ऐसे मैं कहाँ जाओगे के बरसात बहुत है  

वो कहने लगे जाना मेरा बहुत है जरुरी नही चाहता दिल तोडू तेरा पर है मज़बूरी
गर हो गई हो कोई खता तो कर देना माफ़

 

मैंने कहा हो जाओ अब चुप करो इतनी भी बात बहुत है
समज गई हु सब और कुछ कहना जरुरी नही बस आज की रात रुक जाओ ,जाना इतना भी नही जरुरी..

 

फ़िर कभी ना आउंगी तुम्हारी जिन्दगी मैं लौट कर सारी उमर जीने के लिए आज की रात बहुत है …. बस आज की रात .. रुक जाओ ….

This poem is one of my favourite poem.. thats why i post here. hope u all like it ..whenever i read this poem in my diary i read again and again.

palak

बाबुल!!!

Hindi Poems

छलके है आँखें, तरसे है मन ये, रुकी हुई है धड़कन, रुकी रुकी साँसें डगमगा रही हूँ मैं फिर चलते चलते, मुझे थामा था मेरे बचपन मे जैसे, गुडिया को अपनी अपना हाथ फिर थमा दे बाबुल मुझे फिर से तू अपने पास बुला ले  

वो आँगन का झूला क्या अब भी पड़ा है वो तुलसी का पौधा क्या अब भी खड़ा है वो स्तरंगी छतरी, वो बारिश का मौसम, काग़ज़ की कश्ती फिर मेरे लिये एक बना दे एक बार मुझको फिर से वो बचपन लौटा दे बाबुल मुझे फिर से तू अपने पास बुला ले  

वो गुडिया की कंघी, वो खेल खिलौने, वो मेरा तकिया और वो मेरे बिछौने, मेरी कुछ किताबें थी, कुछ अधूरे सपने, सपने वो मुझको एक बार फिर से लौटा दे या सामान मेरा गंगा मे बहा दे… बाबुल मुझे फिर से तू अपने पास बुला ले  

कैसे ज़िगर के टुकड़े को कर दिया तूने पराया, डोली के वक़्त तूने जब कलेज़े से लगाया, मैने सुना था बाबुल तेरा दिल रो रहा था, कैसे रोते दिल को तूने फिर था मनाया बाबुल वैसे ही दिल को एक बार फिर तू मना ले बाबुल मुझे फिर से तू अपने पास बुला ले  

लगी थरथराने जब लौ ज़िन्दगी की, मैने लाख तुझको दिये थे इशारे, माँ को भेजी थी ख़त मे एक कली मुरझाई, भेजी ना राखी, छोड़ दी भाई की सूनी कलाई मगर बेटी तुम्हारी हो चुकी थी पराई, शायद नसीब अपना समझा ना पाई, आखिरी बार मेरी आज तुम फिर कर दो विदाई लेकिन विदाई से पहले अपनी नज़र मे बसा ले बाबुल मुझे फिर से तू अपने पास बुला ले  

मुझे ख़ाक करने को चला था जब ज़माना, क्यों रोए थे तुम भी, मुझे ये बताना, आँखों मे अब ना आँसू फिर कभी लाना भटक रही है रूह मेरी, तेरे प्यार को फिर से माथे पे हाथ रख कर मेरी रूह को सुला दे बाबुल मुझे फिर से तू अपने पास बुला ले ॥

पलक …

ये कविता मैंने कही पढ़ी थी इस लिए मैं इसे यहाँ रख रही हु ..

एक यही ख्वाहिश

Hindi Poems

वक्त रुक जाए उस वक्त जब आप साथ हों

दूर तलक हों चंदा की चादनी और हाथों मैं उनके मेरा हाथ हों

बस एक यही ख्वाहिश है

जी भर सजाऊँ आखो मैं सपने

आप हों कुछ करीब अपने

हवाओं का जोंका कुछ खाश हों

बस एक यही ख्वाहिश है

ना कुछ कहे वो न लब मेरे कुछ बयां करे

हों कभी हम जुदा ऐसे खुदा ना करें

दिल मैं उनके भी मेरे जैसे कुछ जस्बात हों

बस एक यही ख्वाहिश है

हम जी भर कर उन्हे प्यार करें

सब कुछ उन पर निसार करें

बस वही मेरे हर गम हर खुशी के राजदार हों

बस एक यही ख्वाहिश है

कैसे बयां करू उस लम्हे को ……

Hindi Poems

कैसे बयां करू उस लम्हे को बस शब्दों मैं …? जैसे सुखी धरती पैर हो सावन की पहली बोछार जैसे सूरज की किरण आई हो कमरे मैं पहली बार जैसे अच् उठी हो गोरी कलाई चूडियों की जनक से जैसे दुल्हन का रूम निखर उठे कर के साजन का दीदार और कैसे बयां करू उस लम्हे को जब छुआ था तुम्हारे होठो ने मेरे ओठो को पहली बार… पलक ….

महोब्बत की है….!

Hindi Poems

तू मेरे पास नही है फ़िर भी तेरी याद ये महोब्बत की है
तेरे एहसास से महोब्बत की है

 

मैं तुम को किस तरह भूल सकती हु

मैंने तेरे वजूद से महोब्बत की है
कभी तो तुने भी मुझे याद किया होगा
मैंने उन लम्हात से महोबत की है
जिस मै हो सिर्फ़ तेरी और मेरी बाते
मैंने उस जिन्दगी से महोब्बत की है
और जो महकते हो तेरी ही महोबत से मैंने उन जस्बात से महोबत की है
तुजसे मिलना तो अब ख्वाब सा लगता है मैने उस इंतज़ार से महोब्बत की है …

……..PALAK…….

प्यार इस दुनिया मैं भी था

Hindi Poems

नफरत पल रही है पुरी देखरेख के साथ …और प्यार बेचारा यतीम सा ख़ुद ही पल रहा है … इसकी सूरत पर सबने अच्चा नकाब है पहनाया …. प्यार का बिगड़ता रूप मेरा जी जलाता है … शुक्रिया उसका जिसने बाना छोड़ा एक ताज महल … प्यार इस दुनिया मैं भी था पता चलता है …….पलक

खामोशियाँ

Hindi Poems

खामोशियाँ है तो खामोश पर एक अनसुनी ज़बान में हर बात बोलती है , यह आँखें इसका साथ देती है और हर राज खोलती है , हम हर बार यह चाहतें है की किसी को सुनाई ना दे यह पर यह है की हर वक़्त मेरी तनहाइयों में चली आती है और कहती है वो बात जो दुनिया के शोर मे खो जाती है . बस खो जाती है …… palak

ZINDAGI HO TUM…………

Hindi Poems

जो सासों मैं महक जाए वों खुशबु हो तुम

 

जो आंखों को नजर आए वों रौशनी हो तुम

 

जो नीद मैं समां जाए वों सपना हो तुम

 

जो कानो मैं गूंज उठे वों सुर हो तुम

 

जो हर पल साथ हो वों साया हो तुम

 

जो उठा कर हाथ मांगी वों दुआ हो तुम

 

जो धडक उठे वों दिल हो तुम

 

 

तुजे क्या पता क्या हो तुम

 

जो मुझे जिन्दा रखे वों जिन्दगी हो तुम …. BY : PALAK

Ehsaas

Hindi Poems

Kisi ko nazar bhar dekhne ka kisi ko khwabon mei niharne ka kisi ko chhune ka kisi se do pal baat karne ka EHSAAS hai ARMAANO ka kisi ko dil mein rakhne ka kisi ke sparsh ko pane ka kisi ke humsafar banne ka kisi per aitbaar karne ka EHSAAS hai PYAAR ka kisi ko khoon se sinchne ka kisi ko loriyaan sunane ka kisi se MAA kehalwane ka kisi per matritva lutane ka EHSAAS hai MAMTA ka, ek MAA ka kisi per naraaz hone ka kisi per roothne ka kisi se bewajah shikayat karne ka kisi ke naazon ko uthane ka EHSAAS hai ABHIMAAN ka kisi ke saamne na jhukne ka apne nischay per atal rehne ka hamesha sachhai ke saath dene ka apne usulon ko aham samajhne ka EHSAAS hai SWABHIMAAN ka
kisi ke saath simtnay ka

kisi ka ho jane ka
kisi per apnay aap ko samrpit karnay ka
EHSAAS hai ek PATNI ka

kabhi pyaar, kabhi krodh, kabhi prem, kabhi shodh kabhi naraazgi per lagata avrodh kabhi mamta, kabhi dridhta, kabhi mithya, kabhi saatvikta, hai AAKASH sa phaila chadar, ek shabd EHSAAS ka.

 

*****PALAK*****

Love Story

love story

Peter and Tina are sitting in the park doing nothing, but just gazing into the sky, while all their friends are having fun with their beloved half. Tina: I’m so bored. Just wish I have a boyfriend now to spend time with. Peter: I guess we’re the only leftovers. We’re the only person who isn’t with a date now. (both sigh n silence for a while) Tina: I think I have a good idea. Lets play a game Peter: Eh? What game? Tina: Eem..It’s quite simple. You be my boyfriend for 100 days and I’ll be your girlfriend for 100 days. what do you think? Peter: Oookay..Anyway I don’t have any plan for the next few months. Tina: You sound like you aren’t looking forward to it at all. Cheer up. Today will be our first day and our first date. Where should we go? Peter: What about a movie? I heard that there is a really great movie in theatre now. Tina: Seems like I don’t have any better idea than this. Lets move. (went to watch their movies and sent each other home) Day 2: Peter and Tina went to a concert together, and Peter bought Tina a keychain with a star. Day 3: They went shopping together for a friend’s birthday present. Share an ice-cream together and hugged each other for the first time. Day 7: Peter drove Tina up onto a mountain and they watch the sunset together. When the night came and the moon glowed, they said sat on the grass gazing at the stars together. A meteor passed by. Tina mumbled something. Day 25: Spend time at a themepark and got onto rollercoasters, and ate hot-dogs and cotton candy. Peter and Tina got in the haunted house and Tina grabbed someone’s hand instead of Peter’s hand by accident. They laughed together for a while. Day 67: They drove pass a circus and decided to get in to watch the show. The midget asked Tina to play a part as his assistant in the magic show. Went around to see other entertainments around after the show. Came to a fortune teller and she just said “Treasure every moment from now on” and a tear rolled down the fortune teller’s cheek. Day 84: Tina suggested that they go to the beach. The beach wasn’t so crowded that day. They have their first kiss with each other just as the sun is setting. Day 99: They decided to have a simple day and is deciding to have a wal k around the city. They sits down onto a bench. 1:23 pm Tina: I’m thirsty. Lets rest for a while first. Peter: Wait here while I go buy some drinks. What would you like? Tina: Eem…Apple juice will be just fine. 1:43 pm Tina waiting for about 20 minutes and Peter haven’t return. Then someone walked up to her. Stranger: Is your name Tina? Tina: Yes, and may I help you? Stranger: Justnow down there on the street a drunk driver has crashed into a guy. I think its your friend. Tina ran over to the spot with the stranger and sees Peter lying on the floor with blood over his face and her apple juice still in his hands. The ambulance came and she went to the hospital with Peter. Tina sat outside the emergency room for five and a half hours. The doctor came out, and he sigh. 11:51 pm Doctor: I’m sorry, but we did the best we could. He is still breathing now but God would take him away from us very soon. We found this letter inside his pocket. The doctor hands over the letter to Tina and she goes into the room to see Peter. He look weak but peaceful. Tina read the letter and then she burst into tears. Here is what the letter said. Tina … ,

 

our 100 days is almost over. I had fun with you during all these days. Although you may be greedy sometimes and less thoughtful, but these all brought happiness into my life. I have realise that you are a really cute girl and blamed myself for never taken the time to knowing that. I have nothing much to ask for, but I just wish that we can extend the day. I want to be your boyfriend forever and wish that you can be beside me all the time. Tina, I love you. 11:58 Tina: (sobbing) Peter. Did you know what was the wish I made on the night there was a meteor. I asked God to let us last forever. We were suppose to last 100 days so Peter! You can’t leave me! I LOVE YOU, but can you come back to me now? I love you Peter. I LOVE YOU. As the clock struck twelve, Peter’s heart stopped beating. It was 100 days. so… You never know whats going to happen tomorrow. You never know who will be leaving you and never return. : When Someone Loves u, u dont realize it. When u realize it, its too late. U always love the one who leaves u & leave the one who loves u.. :…………..

 

 

Palak …….